Home Planet शनि स्तोत्र – Shani Stotra (दशरथ कृत शनि स्तोत्र )

शनि स्तोत्र – Shani Stotra (दशरथ कृत शनि स्तोत्र )

SHARE
दशरथ कृत शनि स्तोत्र – Shani Stotra
दशरथ कृत शनि स्तोत्र – Shani Stotra

दशरथ कृत शनि स्तोत्र – Shani Stotra

जो भी जातक शनि ग्रह, शनि साढ़ेसात‍ी (Shani Shadhesati), शनि ढैया (Shani Dhaiya) या शनि की महादशा (Shani Mahadasha) से पीड़ित हैं उन्हें दशरथ कृत शनि स्तोत्र (Dashrath Krit Shani Stotra) का नियमित पाठ करना चाहिए। इस पाठ को नियमित करने से भगवान शनि प्रसन्न होते हैं तथा जीवन की समस्त परेशानियों से मुक्ति दिलाकर जीवन को मंगलमय बनाते हैं। इस स्तुति की पाठ स्वयं भगवान राम के पिता महाराज दशरथ जी ने भी किया था, जिससे प्रसन्न होकर शनिदेव ने उन्हें मनचाहा वरदान प्रदान किया था।

शनि मंत्र के साथ शनि स्तोत्र का जाप भी किया जाए तो सोने पे सुहागा वाली कहावत सिद्ध हो सकती है। शनि स्तोत्र है :-

नम: कृष्णाय नीलाय शितिकण्ठ निभाय च
नम: कालाग्नि रुपाय कृतान्ताय च वै नम:
नमो निर्मांस देहाय दीर्घश्मश्रुजटाय च
नमो विशालनेत्राय शुष्कोदरे भयाकृते
नम: पुष्कलगात्राय स्थूलरोम्णेsथ वै नम:
नमो दीर्घाय शुष्काय कालद्रंष्ट्र नमोsस्तुते
नमस्ते कोटराक्षाय दुर्निक्ष्याय वै नम:
नमो घोराय रौद्राय भीषणाय कपालिने
नमस्ते सर्वभक्षाय बलीमुख नमोsस्तु ते
सूर्यपुत्र नमस्तेsस्तु भास्करेsभयदाय च
अधोदृष्टे: नमस्तेsस्तु संवर्तक नमोsस्तु ते
नमो मंदगते तुभ्यं निर्स्त्रिंशाय नमोsस्तुते
तपसा दग्ध-देहाय नित्यं योगरताय च
नमो नित्यं क्षुधार्ताय अतृप्ताय च वै नम:
ज्ञानचक्षुर्नमस्तेsस्तु कश्यपात्मज – सूनवे
तुष्टो ददासि वै राज्यं रुष्टो हरसि तत्क्षणात
देवासुरमनुष्याश्च सिद्ध – विद्याधरोरगा
त्वया विलोकिता: सर्वे नाशं यान्ति समूलत:
प्रसाद कुरु मे सौरे ! वारदो भव भास्करे
एवं स्तुतस्तदा सौरिर्ग्रहराजो महाबल:

दशरथ कृत शनि स्तोत्र – Shani Stotra
दशरथ कृत शनि स्तोत्र – Shani Stotra

शनि संबंधित अन्‍य लेख

  1. शनि की दशा का प्रभाव और फल
  2. शनि ग्रह और उसके उपचार Shani ke upchar
  3. कुण्‍डली में शनि ग्रह 
  4. शनि : लाल किताब के अनुसार 
  5. शनि की साढ़ेसाती और उसका प्रभाव
  6. शनि : रोग, पीड़ा, दान और उपचार
  7. शनि के लिए मंत्र
  8. चमत्कारिक शनि सिद्धपीठ 
  9. शनि स्तोत्र
  10. शनि आरती

अगर आपकी शनि की महादशा चल रही है और आप मुझसे कुण्‍डली विश्‍लेषण कराना चाहते हैं तो इसके लिए आप हमारी दो प्रकार की सर्विस में से किसी एक सर्विस को ले सकते हैं। सामान्‍य टेलिफोनिक विश्‍लेषण के लिए 1100 रुपए जमा कराएं और एनालिसिस रिपोर्ट लेने के लिए 5100 रुपए जमा कराएं। आप हमारी वार्षिक विश्‍लेषण की सेवा भी ले सकते हैं, आगामी एक वर्ष के विश्‍लेषण के लिए आपको 5100 रुपए जमा कराने होते हैं।



 

SHARE
Previous article2020 Horoscope Forecasts for the Year Ahead
Next articleAnnular Eclipse of the Sun- 21 June
ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी भारत के शीर्ष ज्‍योतिषियों में से एक हैं। मूलत: पाराशर ज्‍योतिष और कृष्‍णामूर्ति पद्धति के जरिए फलादेश देते हैं। आमजन को समझ आ सकने वाले सरल अंदाज में लिखे ज्योतिषीय लेखों का संग्रह ज्‍योतिष दर्शन पुस्‍तक के रूप में आ चुका है। मोबाइल नम्‍बर 09413156400 (प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक उपलब्‍ध)