SHARE
prashan kundli india Solution, when you have not your exact birth data

Each house has its significance in Horary astrology. Here we will find house and their significations. हारेरी ज्‍योतिष में हर भाव का अपना कारकत्‍व होता है। इस लेख में हम भावों और उनके कारकों के बारे में जानेंगे।

What the 12 Houses Signifies
बारह भावों से क्‍या देखेंगे

I House: Health, one’s mind, physical feature of the consultant; the condition of the ship in the sea ; Ailment of enemies ; journeys of children ; friends of brothers.

लग्‍न या प्रथम भाव से स्‍वास्‍थ्‍य, मस्तिष्‍क, जातक का शारीरिक गठन, समुद्र में चल रहे जहाज की स्थिति, शत्रुओं के रोग, बच्‍चों की यात्रा और भाई के मित्र देखे जाएंगे।


II House: Money that had been lent; one’s wealth; Prosperity or otherwise, loss or profit; money used in speculation ; death of wife and public enemies.

दूसरे भाव से उधार दिया गया धन, जातक की दौलत, समृद्धि, लाभ-हानि, सट्टे में लगने वाला धन, पत्‍नी का निधन और सार्वजनिक शत्रु देखे जाएंगे।


III House : Brother’s, neighbours, short journey; letters.

तीसरे भाव से भाई, पड़ोसी, छोटी यात्राएं और पत्र देखे जाएंगे।


IV House : Father, House, Estate, Treasure.

चौथे भाव से पिता, घर, एस्‍टेट और खजाना देखा जाएगा।


V House: Children, their health, speculation, racing, games, music and dance.

पंचम भाव से संतान, संतान का स्‍वास्‍थ्‍य, सट्टा, घुड़दौड़, खेल, संगीत और नृत्‍य देखे जाएंगे।


VI House : Disease, debt, difficult, pet animals, cattle, tenant.

छठे भाव से रोग, ऋण, परेशानियां, पालतू पशु, दुधारू पशु और किराएदार देखे जाएंगे।


VII House : Marriage, law-suit, partner, whether the lost property can be recovered.

सप्‍तम भाव से विवाह, कानूनी मुकदमे और खोई हुए संपत्ति के वापस आने की संभावनाएं देखेंगे।


VIII House: Death, Will, legacy, money of the partner, dowry.

आठवें भाव से मृत्‍यु, वसीयत, मृत्‍यु के बाद छोड़ी गई दौलत, साझेदार का धन और दहेज देखा जाएगा।


IX House: Safety, Voyage, Church, Religion, Science.

नौवें भाव से सुरक्षा, लंबी यात्राएं, धार्मिक स्‍थान और विज्ञान देखे जाएंगे।


X House : King, Magistrates, business, profession, reputation.

दसवें भाव से राजा, न्‍यायाधीश, व्‍यवसाय, नौकरी और साख के बारे में विचार किया जाएगा।


XI House: Friends, hopes, advisors, realisation of ambition.

ग्‍यारहवें भाव से मित्र, उम्‍मीदें और महत्‍वकांक्षाओं की यर्थाथ संभावनाएं देखी जाएंगी।


XII House: Trials and tribulations, depression, fraud imprisonment, secret enemies, deception and loss.

बारहवें भाव से जातक का धैर्य, अवसाद, धोखाधड़ी, जेल, गुप्‍त शत्रु और खर्च अथवा हानि के बारे में विचार किया जाएगा।


 

SHARE
Previous articleSanatan kaal : ज्‍योतिष में सनातन काल गणना
Next articleकुंडली में शैय्या सुख (Sexual Life / Sexual Pleasure in Kundali )
ज्‍योतिषी सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी भारत के शीर्ष ज्‍योतिषियों में से एक हैं। मूलत: पाराशर ज्‍योतिष और कृष्‍णामूर्ति पद्धति के जरिए फलादेश देते हैं। आमजन को समझ आ सकने वाले सरल अंदाज में लिखे ज्योतिषीय लेखों का संग्रह ज्‍योतिष दर्शन पुस्‍तक के रूप में आ चुका है। मोबाइल नम्‍बर 09413156400 (प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक उपलब्‍ध)