Home Jain Astrology (जैन ज्योतिष) सूर्य महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र (Jain Mantra for Sun...

सूर्य महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र (Jain Mantra for Sun Mahadasha Remedy)

SHARE
सूर्य की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र | Surya Mahadasha (Sun Mahadasha) Remedy in Jain Mantra (Jain Astrology)
सूर्य की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र | Surya Mahadasha (Sun Mahadasha) Remedy in Jain Mantra (Jain Astrology)

सूर्य की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
Sun Mahadasha Remedy in Jain Mantra (Jain Astrology)

काल पुरुष की कुण्‍डली में सूर्य को आत्‍मा माना गया है। अगर सूर्य उत्‍तम हो तो कुण्‍डली के सभी कष्‍टों का नाश कर देता है। वहीं सूर्य पीडि़त हो तो जातक की साख पर सबसे पहले नुकसान आता है। किसी भी जातक की कुण्‍डली में सूर्य की महादशा छह साल तक चलती है।

सूर्य की महादशा (Surya Mahadasha) के अशुभ प्रभाव होने पर जातक में आत्मबल की कमी हो जाती है। जातक को निर्णय लेने में बहुत देरी लगती है। जातक के महत्वपूर्ण विषयों पर अपने पिता से मतभेद होने लगते हैं। पिता के स्वास्थ्य मे उतार चढ़ाव आ सकते है। समाज मे जातक का सम्मान कम होने लगता है। जातक उन्नति नही कर पाता है। यदि नौकरी करता है तो उसकी अपने वरिष्ठ सहकर्मियों से नही बनती हैं। जातक तक की आंखे कमजोर होने लगती। जातक के बाल झड़ने लगते हैं। जातक को हार्ट अटैक, हाइ ब्लड प्रैशर की शिकायत भी हो सकती है। जातक के जीवन में मानसिक शांति का अभाव होने लगता हैं।

सूर्य की महादशा सामान्‍य तौर पर उत्‍तम होती है। अगर कुण्‍डली में सूर्य पीडि़त हो और नकारात्‍मक परिणाम मिल रहे हों तो सूर्य नमस्‍कार और सूर्य को जल देने के साथ ही निम्‍न मंत्र दस माला का जाप नियमित रूप से करने  से सूर्य ग्रह से होने वाली पीड़ा को बहुत हद तक दूर किया जा सकता है।

ऊं ह्रीं णमो सिद्धाणं”

इस मंत्र के साथ शांति मंत्र की एक माला का जाप भी जरूरी बताया गया है, यह मंत्र इस प्रकार है

ऊं ह्रीं पद्मप्रभ नमस्‍तुभ्‍यं मम शांति: शांति:”

भगवान पद्मप्रभ के अधिष्‍ठायक देव कुसुम की उत्‍तर या पूर्व की ओर मुंह करके लाल वस्‍त्र, लाल आसन, लाल माला, लाल फूल, कुंकुंम का स्‍वस्तिक तथा लाल चंदन द्वारा पूजा की जानी चाहिए।


अन्य ग्रहों की महादशा के दुष्प्रभाव से बचने के लिए जैन मंत्रो द्वारा उपाय जानने के लिए आप निम्न लेख पढ़ सकते हैं। प्रत्येक ग्रह के लिए पृथक लेख द्वारा मंत्रो के प्रयोग को समझाने का प्रयत्न किया है।

चन्द्रमा की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Moon Mahadasha Remedy)
मंगल की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Mars Mahadasha Remedy)
बुध की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Mercury Mahadasha Remedy)
गुरु (बृहस्पति) की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Jupiter Mahadasha Remedy)
शुक्र की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Venus Mahadasha Remedy)
शनि की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Saturn Mahadasha Remedy)
राहु की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
(
Jain Mantra for Rahu Mahadasha Remedy)
केतु की महादशा के उपाय के लिए जैन मंत्र
Jain Mantra for Ketu Mahadasha Remedy