Home Vastu Shastra (वास्तु शास्त्र) वेबसाइट का वास्तु दिलाएगा व्यवसाय में सफलता | Success of an Online...

वेबसाइट का वास्तु दिलाएगा व्यवसाय में सफलता | Success of an Online Business depends upon Vastu of its Website

SHARE
वेबसाइट का वास्तु दिलाएगा व्यवसाय में सफलता
वेबसाइट का वास्तु दिलाएगा व्यवसाय में सफलता

वेबसाइट का वास्तु दिलाएगा व्यवसाय में सफलता
Success of an Online Business depends upon Vastu of its Business Website


किसी भी वास्‍तु संरचना का एक निर्धारित उद्देश्‍य होता है। जिस प्रकार घर को बनाया जाता है, ठीक उसी प्रकार दुकान को नहीं बनाया जा सकता। अगर केवल दुकान की बात करें तो परचून की दुकान और चिकित्‍सक की दुकान का वास्‍तु भी अलग अलग होगा। वास्‍तु संरचना के दो मूलभूत उपयोग होते हैं। क्रेता-विक्रेता की सुगमता और अधिकतम परिणाम हासिल करना। वर्चुअलाइजेशन के दौर में दुकानों का स्‍वरूप बदल रहा है। वैश्चिक गांव की दुकानें ईंट पत्‍थर की न होकर वर्चुअल दुनिया में वेबसाइट के रूप में बदल गई हैं। इन वेबसाइट्स का भी अपना वास्‍तु होता है। भले ही इसमें दिशाओं की भूमिका इतनी महत्‍वपूर्ण न रहे, लेकिन दृश्‍यमान संरचना की  महत्‍वपूर्ण भूमिका होती है।


वेबसाइट के वास्‍तु की सीमाएं और संभावनाएं
Limitations and Possibilities in Vastu of a Website

वेबसाइट के पास स्‍वयं का जमीनी आधार नहीं होता, एक निर्धारित प्रक्रिया के बाद ही हम वेबसाइट तक पहुंच सकते हैं। इसमें कंप्‍यूटर या मोबाइल अथवा टैब आधार संरचना और इंटरनेट सुविधा देने वाली युक्ति है। इन दोनों ही संसाधनों की प्रचुरता वेबसाइट्स के लिए आधारभूमि तैयार करती है। इसके साथ ही वेबसाइट के लिए आधार सामग्री यानी ईंट पत्‍थर उसका कंटेंट होता है। सजावट के लिए ऑडियो और विजुअल टूल होते हैं। दृश्‍य के लिए बैकग्राउंट और कंटेंट का रंग होता है। मिट्टी, पत्‍थर और लकड़ी से बनी संरचना में हमें वास्‍तु के लिए वायु, प्रकाश और जल के सटीक प्रवाह और इनसे मिलने वाली ऊर्जा का ध्‍यान रखना होता है, वहीं वेबसाइट सीधे मन मस्तिष्‍क को प्रभावित करती है, बिना किसी बाहरी ऊर्जा के, ऐसे में पाठक वर्ग या उपभोक्‍ता वर्ग पर इसी सीमा के भीतर रहकर प्रभाव पैदा करते हुए परिणाम हासिल करने होते हैं। मोटे तौर पर ग्रहों की स्थिति को उपलब्‍ध स्‍क्रीन के साथ तालमेल बैठाते हुए प्रदर्शित करना होता है, ताकि पाठक की लय वेबसाइट के साथ अच्‍छी बन सके।


कॉर्पोरेट वेबसाइट का वास्तु
Vastu of a Corporate Website

बड़ा कॉर्पोरेट संगठन शनि आधारित होता है। इसकी वेबसाइट पर आने वाले पाठक पर संगठन की स्थिरता और विश्‍वसनीयता मायने रखती है। ऐसे में वेबसाइट का मूल आधार रंग हल्‍का नीला होना चाहिए। यह रंग न केवल विशवास पैदा करता है, बल्कि लंबे समय तक संगठन के टिके रहने का आश्‍वासन भी देता है। ऑथेरिटी के लिए वेबसाइट के मुखपृष्‍ठ पर संगठन के लिए निर्णय लेने वाले चेयरमेन, सीईओ अथवा मैनेजिंग डायरेक्‍टर जैसे प्रमुख व्‍यक्ति का स्‍पष्‍ट कथन होना जरूरी है। आधार रंग एक ही रखा जाए और टैक्‍सट का रंग भी एक ही रखा जाए तो श्रेष्‍ठ परिणाम हासिल होंगे। मुख्‍यपृष्‍ठ पर संगठन की प्रतिनिधि तस्‍वीर, प्रमुख व्‍यक्ति का संदेश होना चाहिए वेबसाइट के संबंध में शेष जरूरी जानकारियां एक लिंक के जरिए पीछे के पृष्‍ठ में विस्‍तार से दी जा सकती है। फ्रंट पेज अधिक कचरे से भरा हुआ नहीं होना चाहिए।


ई-कॉमर्स वेबसाइट का वास्तु
Vastu of an E-Commerce Website

किसी एक अथवा दूसरे कारण से ईकॉमर्स वेबसाइट पर सर्कल होने चाहिए। चाहे सोशल मीडिया आइकन को सर्कल में रखा जाए, चाहे कार्ट आदि विभिन्‍न लिंक के लोगो को सर्कल में रखा जाए अथवा बीच बीच में सर्कल में कूपन, छूट, योजना आदि प्रदर्शित किए जाएं। ईकॉमर्स वेबसाइट पर जितने अधिक सर्कल होंगे, उस पर ट्रेडिंग उतनी ही अधिक होगी। आने वाला पाठक खरीदारी के लिए इच्‍छुक रहेगा। ईकॉमर्स पर दूसरी महत्‍वपूर्ण चीज है शुक्र की चीजें। जिनते भी लग्‍जरी आइटम हैं, उन्‍हें डेस्‍कटॉप मोड में होने पर शीर्ष के दाहिनी ओर प्रदर्शित करना चाहिए और मोबाइल मोड में बीचों बीच। ईकॉमर्स वेबसाइट के हैडर में स्‍लाइडर लगाने से बचना चाहिए। अगर लगाना ही पड़ जाए तो भविष्‍य में दी जाने वाली योजनाओं को ही प्रदर्शित करना चाहिए, अन्‍य कुछ नहीं। आधार रंग नारंगी और हरा होने पर श्रेष्‍ठ परिणाम हासिल होंगे।


न्‍यूज-मैग्‍जीन अथवा पब्लिशिंग वेबसाइट का वास्तु
Vastu of a News Portal

इनमें नाम और वेबसाइट का उद्देश्‍य शीर्ष पर ही होना चाहिए। सटीक और स्‍पष्‍ट। वेबसाइट का आधार रंग बिल्‍कुल सफेद और टैक्‍स्‍ट गहरा काला होना चाहिए। तस्‍वीरों का कम से कम इस्‍तेमाल किया जाना चाहिए। वेबसाइट के मुख्‍यपृष्‍ठ के कुल स्‍पेस के आधे से कम भाग में तस्‍वीरें होनी चाहिए। शीर्ष पर टैक्‍स्‍ट, मध्‍य में टैक्‍स्‍ट और आखिर में भी टैक्‍स्‍ट होना चाहिए। जहां बहुत अधिक जरूरी हो केवल वहीं पर तस्‍वीर का सहारा लेना चाहिए। स्‍लाइडर या वीडियो स्‍क्रॉल न्‍यूज वेबसाइट की विश्‍वसनीयता को प्रभावित करते हैं। बहुत जरूरी होने पर फुटर के पास इन्‍हें रखा जा सकता है। भड़कीले चित्रों के बजाय जहां तक संभव हो ब्‍लैक एण्‍ड व्‍हाइट चित्रों का उपयोग होने पर वेबसाइट की पहुंच और खबरों की उम्र दोनों बढ़ेंगे। डेस्‍कटॉप और मोबाइल दोनों ही मोड में वेबसाइट कमोबेश एक जैसी दिखाई देनी चाहिए।


सर्विस इंडस्‍ट्री की वेबसाइट
Vastu of a Service Industry Website

वेबसाइट का आधार रंग किस क्षेत्र की सेवा है, उस पर निर्भर करेगा। फिर भी विश्‍वसनीयता के लिए किसी भी दूसरे रंग के साथ हल्‍के और गहरे नीले रंग को जरूर काम में लेना चाहिए। सेवा क्षेत्र शनि का ही क्षेत्र है। ऐसे में वेबसाइट पर हरे, पीले, लाल अथवा भड़कीले रंगों का इस्‍तेमाल किसी भी सूरत में न करें, चित्रों में भी नहीं। चित्रों का उपयोग कम करें और सेवाओं के बारे में विस्‍तार से जानकारी देने के लिए लिंक की लिस्‍ट बाईं ओर साइडबार बनाकर डालें। मुख्‍यपृष्‍ठ लंबा होना चाहिए। चाहे सेवाओं की जानकारी बार बार रिपीट करनी पड़े, लेकिन वेबसाइट पर पहुंचे यूजर को सभी जानकारियां मुख्‍यपृष्‍ठ पर ही मिल जानी चाहिए।


मैन्‍युफैक्‍चरिंग इंडस्‍ट्री की वेबसाइट
Vastu of a Manufacturing Industry Website

जिस वस्‍तु का उत्‍पादन किया जा सकता है, उसके उत्‍पादन की साफ सुथरी प्रक्रिया का एक वीडियो मुख्‍यपृष्‍ठ पर आवश्‍यक रूप से होना चाहिए। पूरे मुख्‍यपृष्‍ठ पर अधिक से अधिक वीडियो का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। यहां तक कि वेबसाइट का हैडर भी ऐसा हो जो कि निर्माण प्रक्रिया के संबंध में Gif अथवा वीडियो चला रहा हो तो यूजर तुरंत कनेक्‍ट हो जाएगा। उत्‍पादन के प्रदर्शन में प्रक्रिया महत्‍वपूर्ण होती है। टैक्‍स्‍ट भले ही कम हो, लेकिन वीडियो और तस्‍वीरों के जरिए स्‍पष्‍ट और साफ प्रदर्शन होना चाहिए। फुटर का इस्‍तेमाल शेष सभी जानकारियों संबंधी लिंक के लिए किया जा सकता है।


हैंडशेकिंग प्‍लेटफार्म की वास्‍तु
Vastu of a Handshaking Web Platform

डेटिंग वेबसाइट अथवा विवाह संबंधी वेबसाइट में खुशी यानी प्रसन्‍नता का बड़ा मोल होता है। कोई किसी के साथ संबंध बनाना चाहता है तो उसके लिए पहली शर्त प्रसन्‍नता का आगमन होती है। ऐसे में वेबसाइट का मुख्‍यपृष्‍ठ पूरी तरह ऐसे मॉडल्‍स की तस्‍वीरों के साथ भरा होना चाहिए जो स्‍वस्‍थ, प्रसन्‍न और संतुष्‍ट दिखाई दें। कोई इंसान अपना कंफर्ट जोन छोड़कर बाहर आता है तो कुण्‍डली के अनुसार उसका एकादश भाव ऑपरेट हो रहा होता है। एकादश भाव को हाउस ऑफ फुलफिलमेंट कहा जाता है। जहां इच्‍छाएं पूरी होती हों। हैंडशेकिंग प्‍लेटफार्म ऐसी ही जगह है, जहां इंसान अपनी अधूरी इच्‍छा पूरी करने के लिए आता है। ऐसे स्‍थान पर स्‍वस्‍थ, प्रसन्‍न और संतुष्‍ट तस्‍वीरें वेबसाइट का आधा काम पहले ही कर देंगी। अधिकांशत: ऊर्जावान रंगों जैसे हल्‍का नारंगी, सॉफ्ट लाल, क्रीम, हल्‍का गुलाबी आदि रंग अच्‍छी मात्रा में इस्‍तेमाल करने चाहिए। दृश्‍य की ऊर्जा के साथ यूजर की ऊर्जा भी जुड़ जाएगी और हैंडशेकिंग अधिक सफल हो पाएगी। वेबसाइट के कार्ट वाले हिस्‍से अथवा ऐसे भाग जहां वेबसाइट अपनी सेवाएं अथवा अपने उत्‍पाद भी बेच रही हों, वहां पूरी तरह हरा रंग इस्‍तेमाल करना चाहिए। हल्‍का हरा, गहरा हरा अथवा पीलापन लिए हरा रंग तक इस्‍तेमाल किया जा सकता है।


स्‍टार्टअप की वेबसाइट का वास्‍तु
Vastu of a StartUp Website

जिस विषय का स्‍टार्टअप हो, उसी से संबंधित वास्‍तु संरचना का इस्‍तेमाल करना होगा, लेकिन ध्‍यान रखने की बात यह है कि स्‍टार्टअप के सामने सबसे बड़ी चुनौती विश्‍वास की होती है। ऐसे में स्‍टार्टअप बिजनेस वाली वेबसाइट पर मुख्‍यपृष्‍ठ पर ही स्‍टार्टअप का पूरा वीजन और फुटर के ठीक ऊपर संबंधित सभी उद्यमियों की विस्‍तार से प्रोफाइल दी जानी चाहिए। वेबसाइट का शीर्ष जहां सूर्य का स्‍थान लेता है वहीं बॉटम शनि का स्‍थान लेता है। बॉटम राइट राहू और बॉटम लेफ्ट चंद्रमा का स्‍थान है। स्‍टार्टअप को चंद्रमा का स्‍थान प्रमुखता से इस्‍तेमाल करना चाहिए।


एज्‍युकेशन वेबसाइट का वास्‍तु
Vastu of a Education Website

शिक्षा सीधे सीधे गुरु और बुध से जुड़ा विषय है। ऐसे में वेबसाइट के हैडर का लेफ्ट भाग महत्‍वपूर्ण होता है। साथ ही वेबसाइट का साइडबार बाईं ओर होना चाहिए। यह साइडबार स्थिर रहेगी। अगर एज्‍युकेशन से संबंधित उत्‍पाद बेचने हों तो इसी साइडबार में डिस्‍प्‍ले होने चाहिए। मोबाइल मोड में पीले और हरे रंग का अधिक से अधिक इस्‍तेमाल होना चाहिए। वीडियो के बजाय केवल टैक्‍स्‍ट और चित्र ही पर्याप्‍त होंगे। वीडियो के लिए अलग पेज बनाया जा सकता है जो पिछले पेजों में खुले।


फाइनेंस इंडस्‍ट्री की वेबसाइट का वास्‍तु
Vastu of a Finance Industry Website

आधार रंग नीला अथवा बैंगनी रहेगा। अगर वेबसाइट पर वीडियो लगा रखे हैं तो वीडियो का बैकग्राउंट आवश्‍यक रूप से बैंगनी आधार का होना चाहिए। उत्‍पाद का पेज मुख्‍यपृष्‍ठ से अलग रहना चाहिए, उत्‍पाद का पृष्‍ठ मुख्‍यतया गोल घेरों वाले लोगो और हरे रंग की प्रमुखता वाला होना चाहिए। मुख्‍यपृष्‍ठ पर उत्‍पादों के बजाय संगठन की सफलता से संबंधित टैक्स्‍ट हो और पुराने ग्राहकों की संतुष्टि से संबंधित टेस्‍टीमोनियल हो तो उत्‍पादों को बेचना अपेक्षाकृत आसान होगा।


हैल्‍थ इंडस्‍ट्री की वेबसाइट का वास्‍तु
Vastu of a Health Industry Website

आधार रंग सफेद होना चाहिए और जहां महत्‍वपूर्ण सूचनाएं दी गई हैं, वहां स्‍पष्‍ट रूप से दृष्टिगोचर लाल रंग के लोगो होने चाहिए। मुख्‍यपृष्‍ठ पर्याप्‍त लंबाई लिए हुए हो, स्‍क्रॉल में नीचे आने पर सभी उत्‍पादों की सूचना विस्‍तार के साथ मुख्‍यृष्‍ठ पर ही परोसनी चाहिए। टैक्‍स्‍ट का रंग हल्‍का काला होना चाहिए। वीडियोज का इस्‍तेमाल नहीं करें, केवल साफ सुथरी तस्‍वीरें और साफ सुथरा टैक्‍स्‍ट हो।


आखिर में (निष्कर्ष)
Conclusion…

किसी भी प्रकार की वेबसाइट में अपने कार्यक्षेत्र के संबंधित संदेश बहुत स्‍पष्‍ट होना चाहिए, जहां सूचनाओं की जरूरत हो, वहां फुटर को लिंक बैंक की तरह इस्‍तेमाल करना चाहिए, फुटर में जो लिंक दाईं ओर होंगे, उनका इस्‍तेमाल अपेक्षाकृत कम होगा, लेकिन कंपनी के बारे में, इतिहास के बारे में और स्‍थाई लिंक के लिए दायां भाग इस्‍तेमाल करें और अधिक काम में आने वाले लिंक अथवा उपयोगी लिंक को बाईं ओर लगाएं।


विभिन्न ग्रहों की महादशाओं में आने वाली व्यवसाय, स्वास्थ्य, धन, दांपत्य जीवन, प्रेम संबंध, कानूनी, पारिवारिक समस्याओं आदि के ज्योतिषीय समाधान के लिए आप मुझ से फोन अथवा व्हाट्सएप द्वारा संपर्क कर सकते हैं । CallWhatsApp